Attitude status in Hindi for Whatsapp


बन्दा‌ नही है कोई टक्कर का आज की तारीख में …इसलिए लफ्ज कम‌ पड़ जाते है हमारी तारीफ में


मुझे क्या डराएगा मौत का मंजर, हमने तो जन्म ही कातिलों की बस्ती में लिया है


पिता की दौलत पर क्या घमंड करना , मज़ा तो तब है जब दौलत अपनी हो और घमंड पिता करे 😎 😉😎


मिजाज हमारा भी कुछ-कुछ 😏 है समुंद्र के पानी जैसा.. खारे 😒 हैं, मगर खरे 😏 हैं..


नजर अंदाज जितना करना है कर लो… अन्दाजा उस दिन का भी कर लो जब हम नजर नहीं आयेगे..


मैंने कुछ लोग लगा रखे हैं पीठ पीछे बात करने के लिए … पगार कुछ नहीं है उनकी पर काम बड़ी ईमानदारी से करते हैं


जिन लोगों को मुझसे नफरत है वो करते रहे , मैं कौन सा सबसे प्यार करता हूँ


मुझे मिलना है आसमान से, ऊँचाइयों पर नहीं , उस से कहो नीचे आए !


हमारा Style 😎 और Attitude 😏 ही कुछ अलग है, बराबरी करने जाओगे तो बिक जाओगे…


मत करो मेरी पीठ के पीछे बात जाकर कोने में ….. वरना जिंदगी बीत जाएगी बस रोने में


इन्कार है जिन्हे आज मुझसे मेरा वक्त देखकर,मै खूद को इतना काबील बनाउंगा वो मिलेंगे मूझसे वक्त लेकर!


सुधरी हे तो बस मेरी आदते… वरना मेरे शौक.. वो तो आज भी तेरी औकात से ऊँचे हैं…!!!


हुकुमत वो ही करता हे जिसका दिलो पर राज होता हे !!!! वरना यू तो गली के मुर्गो के सिरो पे भी ताज होता हे ……!!!


अगर जींदगी मे कुछ पाना हो तो तरीके बदलो, ईरादे नही..


हम जैसे सिरफिरे ही इतिहास रचते हैं !समझदार तो केवल इतिहास पढ़ते हैं !!नाम इसलिए उँचा हैं..हमारा… क्योंकि……हम ‘बदला लेने की नही ,’बदलाव लाने, की सोच रखते हैं..


जीत हासिल करनी हो तो काबिलियत बढाओ । किस्मत की रोटी तो कुत्तों को भी नसीब हो जाती है


हमारे जीने का तरीका थोड़ा अलग है,हम उमीद पर नहीं अपनी जिद पर जीते है!!


आदत नई हमे पीठ पीछे वार करने की !!दो शब्द काम बोलते है पर सामने बोलते है !!


पाना है मुक्काम ओ मुक्काम अभी बाकी है अभी तो जमीन पै आये है असमान की उडान बाकी है !


अकड़ती जा रही हैं हर रोज गर्दन की नसें, आज तक नहीं आया हुनर सर झुकाने का ..


Attitude तो बचपन से है, जब पैदा हुआ तो डेढ़ साल मैंने किसीसे बात नही की ।


Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *